आखिर क्यों माला सिन्हा को करनी पडी थी एक ही शख्स से तीन बार शादी

Share with Friends!!

आखिर क्यों माला सिन्हा को करनी पडी थी एक ही शख्स से तीन बार शादी। माला सिन्हा ने उस दौर में बॉलीवुड में अपनी पहचान बनाई जब नूतन नर्गिस और मीना कुमारी जैसी टॉप हीरोइनों का बॉलीवुड पर राज था। इनके स्टारडम के बीच अपनी पहचान बनाना आसान नहीं था, लेकिन माला सिन्हा ने कर दिखाया। माला सिन्हा के फ़िल्मी करियर के बारे में तो सभी जानते है लेकिन कम ही लोग उनकी शादी का दिलचस्प किस्सा जानते होंगे। माला सिन्हा ईसाई थी।

Source

इसी वजह से उनके पिता की इच्छा थी कि बेटी माला की शादी गिरिजाघर में कोई पादरी कराए। माला सिन्हा ने अपने साथी कलाकार चिदम्बर प्रसाद लोहानी के साथ 16 मार्च 1968 को शादी की। ये शादी आज तक याद की जाती है। माला की शादी सबसे पहले ईसाई और हिन्दू सीपी लोहानी सिविल  मैरेज रजिस्टर पर हस्ताक्षर करके हस्बैंड और वाईफ बनकर की गई।  फिर मुंबई में गिरिजाघर में की गई।

Source

दो बार शादी होने के बाद भी लोहानी के परिवार को संतुष्टि नहीं मिली और हिन्दू होने की वजह से उन्होंने ये शर्त रखी कि जब तक बहु सात फेरे नहीं लेगी तब तक उसका गृह प्रवेश नहीं होगा। और इस तरह तीसरी बार उसी आदमी से माला ने सात फेरे लिए। दिलचस्प बात ये है कि लोग तो दूसरी शादी भी दूसरे आदमी के साथ करते है लेकिन माला ने एकसाथ तीन शादियाँ एक ही आदमी के साथ की

loading...